Search

दहेज दानवों ने फिर निगल लिया एक नव- विवाहिता को

संदीप सुमन की रिपोर्ट—– जिले में लगातार हो रही है दहेज के लिए विवाहिता की हत्या,सरकार द्वारा चलाये जा रहे अभियान का समाज में नहीं हो रहा असर सहरसा। बीती रात दहेज लोभियों ने एक बार फिर से एक नव विववाहित की फांसी लगा हत्या कर दी। घटना सदर थाना क्षेत्र के सिरादे पट्टी गांव में शुक्रवार की रात हुई है। सुबह स्थानीय लोगों ने घटना की सूचना मृतिका विभा देवी(19)के मायके वालों को दिया। घटना के सम्बंध में मृतिका के पिता चैनपुर निवासी लालमोहर राम ने बताया कि सुबह सूचना मिलने पर जब बेटी के ससुराल पहुंचा तो देखा वह मृत पड़ी है। उसके गले में रस्सी के काले निशान थे। मानो उसे फांसी पर लटका कर उसकी हत्या कर दी गयी हो।

वहीं ससुराल वाले घर से फरार हो गए। उन्होंने बताया की मैने अपनी पुत्री की शादी एक वर्ष पूर्व सिरादे पट्टी निवासी राजेन्द्र राम के पुत्र मुकेश राम से लाखों रुपये का उपहार दे कर किया था। बावजूद इसके ससुराल वाले हमेशा मेरी लड़की से मोटरसाइकिल की मांग किया करते थे। साथ ही उसके साथ बराबर मारपीट भी किया करते थे।परिजनों के बयान पर सदर पुलिस ससुराल पक्ष पर दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज करवाई में जुट गयी है। परिजनों ने दर्ज प्राथिमिकी में पति,ससुर,भैसुर,व गोतनी को घटना का नामजद अभियुक्त बनाया है।ज्ञात हो की तीन दिन पूर्व भी शहर के सुपर मार्केट में दुर्गा देवी नाम की एक महिला को दहेज के खातिर ससुराल वालों ने जला कर मार दिया था। सूत्रों की माने तो जिले में तीन माह के अंदर दहेज के खातिर यह छठी हत्या हुई है। उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार दहेज उन्मूलन और बाल विवाह उन्मूलन के लिए लागातार अभियान चला रही है। वावजूद इसके समाज में इस तरह की घटना रुकने का नाम नहीं ले रहा है।

Written by 

Related posts