Search

श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना ने किया संगठन का विस्तार…

देश भर में आरक्षण के विरोध सहित कई सामाजिक कुरीतियों के खिलाफ फूंका आंदोलन का विगुल…..

चन्दन सिंह की रिपोर्ट —– श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना की एक आवश्यक बैठक स्थानीय संजय पार्क में संगठन के मुख्य बिहार-झारखण्ड संगठन प्रभारी मुकेश कुमार सिंह के नेतृत्व में सम्पन्न हुई ।

सहरसा जिले में संगठन का विस्तार करते हुए मुकेश कुमार सिंह ने संगम सिंह राजपूत को सहरसा जिला उपाध्यक्ष,पम्पल सिंह को पतरघट प्रखंड अध्यक्ष, गुंजन सिंह को सोनवर्षा राज प्रखंड अध्यक्ष, कुणाल सिंह वीरू को नगर संयोजक और जिला मुख्यालय स्थित 38 वार्डों में से बचे शेष 13 वार्डों के अध्यक्ष को नियुक्त करते हुए उन्हें नियुक्ति पत्र सौंपे ।संगठन विस्तार की इस कड़ी में श्री सिंह ने कहा कि जिले के सभी गॉंवों तक संगठन के पदाधिकारी पहुंचकर महिला और पुरुष को संगठन से जोड़ेंगे ।पहले राजपूताने को एक करने का हमारा मकसद है और फिर आगे क्षात्र धर्म का पालन करते हुए सर्वसमाज की सेवा पूर्वाग्रह से मुक्त होकर करनी थी ।

आगे श्री सिंह ने जानकारी देते हुए कहा कि आगामी 3 मार्च को आरक्षण के मुद्दे पर राजस्थान में हमारी बड़ी रैली होने वाली है । मार्च में ही हम दिल्ली में जनता कर्फ्यू लगाएंगे ।हमने सरकार को तीन माह का समय अयोद्धया मंदिर निर्माण शुरू करने के लिए अल्टीमेटम दिया है ।अगर सरकार मंदिर निर्माण में अक्षम साबित हुई,तो श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना अपने बूते मंदिर का निर्माण कराएगी ।मुकेश कुमार सिंह ने कहा कि आगामी 15 अगस्त को संगठन के योद्धा जम्मू–कश्मीर के लाल चौक पर वंदे मातरम के जयकारे लगाएंगे और तिरंगा लहरायेंगे ।श्री सिंह ने अपनी बात आगे बढ़ाते हुए कहा कि श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना बाल–विवाह,दहेज प्रथा, शराबबंदी,मृत्यु भोज,विधवा विवाह यौन अपराध सहित कई अन्य मुद्दे को लेकर देशव्यापी आंदोलन करेगी । हमारे संगठन का मकसद है शासन प्रशासन को अपनी ताकत का अहसास कराना और सर्वसमाज के हित के लिए समर्पित रूप से काम करना । इस बैठक में संगठन के सहरसा जिलाध्यक्ष हरिओम सिंह,जिला महामंत्री अमित सिंह किनवार,जिला महासचिव, सोन सिंह भदौरिया, जिला कोषाध्यक्ष चन्दन सिंह, जिला सचिव चुन्नू सिंह भदौरिया, जिला संयोजक सत्यम सिंह चौहान, सिमरी बख्तियारपुर प्रखंड अध्यक्ष राजवीर सिंह सहित संगठन के कई पदाधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद थे ।

 

Comments

Written by 

Related posts