Search

सहरसा की बेटी ने लहराया परचम….

अलीशा अंसारी. रोक्वेल एकेडमी, कलिम्पोंग.

बेटी हूँ तो क्या हुआ दुनिया को दिखा दूँगी….
बेनजीर जायका के स्वाद से किया सहरसा का नाम रौशन….
सहरसा टाईम्स की खास रिपोर्ट —–
दिल मे चाहत या फिर मजबूत इरादा हो तो कुछ भी नामुमकिन नहीं हैं। मजबूत इरादे के साथ आगें बढ़ते रहिये निश्चित आपको कामयाबी मिलेगी।

जी हाँ ऐसा ही वाक्या सहरसा जिले के मीर टोला निवासी मो० अरशद अंसारी की पुत्री हैं। जो एक साधारण परिवार की बेटी हैं। जिसके अभिवाभक कुछ दिनों पहले ही अपनी बच्ची को अच्छी शिक्षा के लिए दार्जिलिंग के रॉकवेल एकेडमी, स्कूल में इंटर की पढ़ाई हेतु दाखिला करवाया। दाखिला के बाद स्कूल के पढ़ाई का सफर शुरू हुआ और वो भी काफी लगन से पढ़ाई करना शुरू की। इस दौरान कुछ परीक्षा देना का मौका भी मिला जिसमें वो समय–समय पर अच्छा नम्बर लाया करती थी।

वक़्त गुजरता गया और पढ़ाई की जिम्मेदारी भी बढ़ती गयी लेकिन धीरे–धीरे वक़्त के साथ वो पढ़ाई की जिम्मेदारी को समझने लगी और अभी पिछलें दिनों ही रॉकवेल एकेडमी, कलिम्पोंग दार्जिलिंग में देश स्तर के होटल मैनेजमेंट कॉलेज International Institute of Hotel Management. West Bengal के द्वारा खाने के जायका को लेकरएक कार्यक्रम का आयोजन किया गया. जिसमें तीन लड़की के ग्रुप में प्रथम स्थान का हकदार अलिशा अंसारी हुई।

International Institute of Hotel Management. West Bengal  के द्वारा इस कार्यक्रम को इससे बड़ा स्तर पर करने के लिए कोलकत्ता में आयोजन करने की बात सामने आयी। तब रॉकवेल एकेडमी, दार्जिलिंग सेसिर्फ प्रथम स्थान पाई अलिशा अंसारी को कलकत्ता में कार्यक्रम में भाग लेना का मौका मिला वहाँ वो वन टू टेन में आ गयी।

इसके बाद अलीशा वन टू टेन के साथ आगामी तिथि को दिल्ली जायेगी जहाँ “दिल्ली  में कौन मारेगी बाजी” इसको लेकर कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा हैं। हमसभी कोसी की बेटी के लिए दिल से दुआ करिये कि जीत उसके नसीब में हो। जिससें कोसी की खुशबू से देश तर हो जाये।

Written by 

Related posts