Search

बिहार सरकार ने आईटी विभाग कर्मियों को दिया जबर्दस्त चुनावी तौफा

कार्यपालक सहायकों, आईटी सहायकों और आईटी प्रबंधक के मानदेय में जबर्दस्त बढ़ोतरी के साथ – साथ 60 वर्षों की सेवा का तौफा…. 

 चन्दन सिंह की रिपोर्ट —- बिहार सरकार ने एक बार फिर चुनाव से पूर्व आईटी विभाग कर्मियों को बड़ा तौफा देकर वोट सुरक्षित करने का काम किया है. जी हाँ, बिहार सरकार के जितने भी विकास के दावे और आवाम को सुविधा देने की बात होती है इसमें आईटी  सेक्टर की अहम भूमिका है. संविदा के आधार पर नियोजित आईटी प्रबंधक, आईटी सहायक और कार्यपालक सहायकों के बिना किसी भी विभाग में सफल कार्य की कल्पना करना सप्ने देखने जैसी बात है. आज बिहार सरकार के इस तौफे से सभी के घरों में ख़ुशी का माहोल है.   

गौरतलब है की  बिहार प्रशासनिक सुधार मिशन सोसाइटी की शासी परिषद् की 10 अक्टूबर 2018 और 15 फरवरी 2019 को हुई बैठक में बिहार प्रशासनिक सुधार मिशन सोसाइटी के अधीन सृजित पदों पर संविदा के आधार पर विभिन्न विभागों / कार्यालयों में नियोजित एवं कार्यरत आईटी प्रबंधक आईटी सहायक एवं कार्यपालक सहायक के नए मानदेय निर्धारित किए जाने का निर्णय लिया गया था जिसे 07-03-2019 को सामान्य प्रशासन विभाग ने अपनी स्वीकृति प्रदान कर संविदा कर्मियों के घरों में जश्न ए इन्क्रीमेंट का माहोल बना दिया. 

Comments

Written by 

Related posts