Search

चेतन आनन्द का राजनीति में धमाकेदार इंट्री

सहरसा टाईम्स के लिए संकेत सिंह की रिपोर्ट : कांग्रेस ने जेल में बन्द पूर्व सांसद आनंद मोहन और उनकी पत्नी पूर्व सांसद लवली आनंद को उनकी लोकप्रियता और जनाधार को देखते हुए उनके बड़े बेटे चेतन आनंद को बिहार में बड़ी जिम्मेवारी सौंपी है । जाहिर तौर पर राहुल गांधी, अखिलेश यादव, तेजस्वी यादव, तेजप्रताप यादव, चिराग पासवान के बाद यह एक नए युवराज की राजनीति में दमदार प्रवेश है ।

कांग्रेस आला कमान ने चेतन आनंद को बिहार चुनाव प्रचार अभियान समिति का सदस्य बनाया है । बिहार प्रदेश कांग्रेस ‘चुनाव प्रचार अभियान समिति’ के सदस्य बनाए जाने पर युवा नेता चेतन आनंद को समर्थकों की ओर से लगातार बधाई देने का सिलसिला जारी है ।

कौन है चेतन आनन्द ?

बताना बेहद लाजिमी है कि बिहार के प्रख्यात स्वतंत्रता सेनानी परिवार में जन्मे चेतन आनंद के परपितामह स्वर्गीय राम बहादुर सिंह “बाबू साहब” को लोग ईज्जत, सम्मान, श्रद्धा और प्यार से ‘कोशी का गांधी’ कहकर पुकारते थे । उनके बड़े दादा स्व.पद्मानंद सिंह ‘ब्रह्मचारी’ और दादा श्री स्व. सच्चिदानंद सिंह जी भी सन 42 के स्वतंत्रता समर के युवा सेनानी थे । पारिवारिक ज्ञातव्य हो कि चेतन आनंद बिहार के ‘फायर ब्रांड नेता’, रॉबिनहुड, बिपीपा के सुप्रीमो, जे. पी. आंदोलन के बड़े सेनानी पूर्व सांसद आनंद मोहन तथा वर्ष 1994 के वैशाली लोकसभा उपचुनाव में सनसनीखेज जीत दर्ज करने वाली चर्चित नेत्री पूर्व सांसद श्रीमती लवली आनंद के ज्येष्ठ पुत्र हैं। पूर्व सांसद आनंद मोहन तत्कालीन गोपालगंज डी.एम.जी.कृषनैया हत्याकांड में आजीवन कारावास के सजायाफ्ता हैं और अभी सहरसा जेल में बन्द हैं।

हांलांकि पूर्व सांसद लगातार यह कहते रहे हैं कि सत्ता के लोभ और राजसिंहासन के लिए उन्होंने ना कभी अपने वसूल बदले और ना ही घुटने टेके। इसी वजह से साजिशतन उन्हें कई राजनेताओं ने मिलकर सजा कराई है। हांलांकि सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बहुत जल्द वे रिहा होने वाले हैं ।

चेतन आनन्द की शैक्षणिक और कार्य अनुभव  —-

देश के ‘टॉप टेन’ में शुमार ‘वेल्हम बॉयज’ स्कूल, देहरादून से प्लस ‘टू’ और ख्यातिलब्ध ‘सिंबायोसिस पुणे’ से स्नातक की डिग्री हासिल करने वाले चेतन आनंद अपने पिता के राजनीतिक-सामाजिक संगठन ‘फ्रेंड्स ऑफ आनंद’ के विगत कई वर्षों से बतौर केंद्रीय कार्यकारी अध्यक्ष भी रहे हैं। बिहार के जन सरोकारों से जुड़े सवालों को लेकर वे अनवरत संघर्षरत रहे हैं।

उनके मनोनयन पर समर्थकों ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी, प्रभारी महासचिव शक्ति सिंह ‘गोहिल’,प्रभारी सचिव वीरेंद्र राठौड़, प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, नेता विधानमंडल दल सदानंद सिंह,अभियान समिति के अध्यक्ष अखिलेश सिंह के प्रति आभार व्यक्त किया है।
चेतन को बधाई देने वालों में सुरेन्द्र नाथ झा गोपाल,कांग्रेस के जिलाध्यक्ष विद्यान्द मिश्र, इन.एस.यू.आई के पूर्व जिलाध्यक्ष सुदीप कुमार सुमन,एन. एस.यू. आई के इंडिया के कॉर्डिनेटर मनीष कुमार,एन. एस. यू. आई. के अमित कन्हैया कांग्रेस के शोभा कांत झा,ई.रमेश प्रसाद सिंह,फ़्रेंड्स ऑफ आनंद के राष्ट्रीय महासचिव राजन आनंद, वार्ड पार्षद 12 सह समाजसेवी राजेश कुमार सिंह,रोहिन दास,पूर्व वार्ड पार्षद अनिता कुशवाहा,शेख मोहम्मद अली भुट्टो,मुकुल कुमार सिंह, चंदन कुमार सिंह,अध्यक्ष,जिला बी.पी. पा,अजय कुमार बबलू कुमार सिंह,जिला अध्यक्ष फ्रेंड्स ऑफ आनंद सहरसा,अनिल कुमार सिंह,संतोष कुमार सिंह,चंचल कुमार सिंह,सुशीला कुमार सिंह,पप्पू राजा यादव छात्र महासचिव,राहुल कुमार सिंह, रंजीत कुमार गुप्ता छात्र महासचिव,वैभव कुमार मिश्रा, छात्र सचिव,राहुल कुमार यादव, नवीन यादव,शुभम कटारिया, विकास कुमार राम,आदर्श कुमार झा,सुमित कुमार राम,सौरभ कुमार सिंह,शिवा यादव,राजेश कुमार सिंह छात्र महासचिव, विक्की चौधरी,साकेत तिवारी, शुशांत तिवारी,आशीष कुमार यादव,प्रिंस कुमार मेहता,रोहित प्रमुख थे ।

Comments

Written by 

Related posts