Search

धार्मिक उन्माद फैलाने की कोशिश में सद्दाम को पुलिस ने दबोचा..

तीन दिनों से चल रहा साम्प्रदायिक तनाव, आज हुआ ठंढा 
सहरसा के सोनवर्षा राज थाना के सोहा गाँव का है गिरफ्त में आया आरोपी सद्दाम
कल एक समुदाय के आक्रोशित लोगों ने सोनवर्षा राज बाजार में दिन भर काटा था बबाल
जिले की महिला डीएम, एसपी सहित सभी आलाधिकारियों की महती कोशिश से माहौल हुआ खुशनुमा… 
सहरसा से संकेत सिंह की रिपोर्ट—- एक ह्वाट्स एप ग्रुप में एक हिन्दू देवी की आपत्तिजनक तस्वीर डालने की वजह से बीते तीन दिनों से सोनवर्षा राज थाना क्षेत्र में उपजा धार्मिक तनाव अब आरोपी की गिरफ्तारी से पूरी तरह से कम हो गया है। इस पोस्ट को लेकर एक धर्म के लोग बीते बुधवार से ही सुलग रहे थे। इसी को लेकर बीते बृहस्पतिवार को सारा दिन सोनवर्षा राज इलाके में ना केवल अफरातफरी का माहौल रहा बल्कि कब कौन सी बड़ी घटना घट जाएगी, इसका अंदेशा बना रहा। दिन भर दो अनुमंडल के एसडीओ, एसडीपीओ, डीएसपी और सैंकड़ों जवान वहां जमे रहे और आक्रोशित लोगों को शांत कराने का प्रयास जारी रहा लेकिन लोग आरोपी की गिरफ्तारी पर डटे हुए थे। आरोपी चंडीगढ़ में था।अब लोग जबतक आरोपी सद्दाम गिरफ्तार नहीं होता है, तबतक कम से कम उसके पिता की गिरफ्तारी हो, लोग इस जिद पर अड़े थे । तनाव का माहौल देखकर सद्दाम के घर के लोग फरार हो गए थे। शाम चार बजे के बाद जिलाधिकारी शैलजा शर्मा और एसपी राकेश कुमार सोनवर्षा राज पहुँचे और लोगों से ना केवल शांति बनाए रखने की अपील की बल्कि दोषी पर कठोर कारवाई का भी भरोसा दिलाया। डीएम और एसपी का प्रयास रंग लाया और लोग मान गए।
तीन राज्यों की पुलिस ने संयुक्त कारवाई करते हुए सद्दाम को गिरफ्तार कर लिया। अब आगे सद्दाम पर पुलिस और कानून जो शिकंजा कसे लेकिन किसी भी धर्म के खिलाफ बोलना और लिखना कतई सहनीय नहीं है । कोई धर्म आपस में लड़ने की नसीहत नहीं देता है । सभी धर्मों का एक ही फलसफा है कि लोग अमन, चैन, भाईचारा, प्रेम, मिल्लत और आपसी सहयोग से अपने जीवन की सुखमय गाड़ी दौड़ाएं ।लेकिन सभी धर्मों में कुछ लखेड़े हैं,जो समय-समय पर कोई ना कोई ऐसी हरकत कर जाते हैं जिससे शासन-प्रशासन से लेकर आमलोगों तल्ख परेशानी झेलनी पड़ती है ।

Comments

Written by 

Related posts