Search

भारत के मुसलमान राम के वंशज हैं मुगलों के नहीं— गिरिराज सिंह

  1. ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों के खिलाफ कड़ा कानून बनना चाहिए….
  2. अल्पसंख्यक की नई परिभाषा बननी ही चाहिए…

सहरसा टाईम्स की रिपोर्ट —– हमेशा चर्चा में रहने वाला केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने आज फिर विवादित बयान दिया. केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बागपत के सम्राट पृथ्वीराज चौहान कॉलेज में जनसंख्या समाधान फाउंडेशन की जनसंख्या कानून रैली में अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर देश मे चल रहे हालातों के बीच विवादित बयान देकर राजनीति गर्म कर दिया है इस रैली में गिरिराज सिंह मुख्य अतिथि के रूप में थे. उन्होंने भारत में रहने वाले मुसलमानों को राम का वंशज बता डाला है और कहा है कि भारत के मुसलमान प्रभु श्री राम के वंशज हैं मुगलों के नहीं.  श्री सिंह ने ये भी कह दिया कि मुसलमानों को मंदिर निर्माण पर शियाओ की तरह आगे आना चाहिए. 

साथ हीं गिरिराज सिंह ने ये भी कहा कि देश में 54 जिलों में हिंदुओं की संख्या गिरी है और देश के हालात बिगड़ रहे हैं. जहां हिन्दू कम हुए हैं वहा सामाजिक समरसता टूटी है. देश में अल्पसंख्यकों की परिभाषा भी बदलनी चाहिए क्योंकि जहां 5 या 10 प्रतिशत हैं वहां भी अल्पसंख्यक और जहां किसी विशेष समुदाय की 90 प्रतिशत आबादी है वहां भी अल्पसंख्यक ही हैं तो इसकी नई परिभाषा बननी ही चाहिए.

एक सवाल के जवाब में गिरिराज सिंह ने कहा कि हर मोर्चे पर वोट के सौदागर खड़े हैं इसलिए जिस दिन जनभागिता होगी उस दिन राम मंदिर भी बनेगा और जनसंख्या पर कानून भी. इसके अलावा सड़क से संसद तक इस पर बात होनी चाहिये और ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों के खिलाफ कड़ा कानून बनना चाहिए और उनका वोट देने का अधिकार खत्म हो जाना चाहिए. इसके साथ साथ आर्थिक कारवाई भी होनी चाहिए.

 

Written by 

Related posts