Search

कैलू यादव की निर्मम हत्या की वजह थी बैटरी

 सहरसा से संकेत सिंह की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट : बीते 23 नवम्बर को सहरसा के रिहायशी और भीड़-भाड़ वाले इलाके कचहरी ढ़ाला पर कैलू यादव की बेहद निर्मम तरीके से हत्या कर दी गयी थी ।सूरज यादव ने चाकू से ताबड़तोड़ हमले कर कैलू यादव को मौत के घाट उतार दिया था ।हांलांकि हत्यारे सूरज यादव ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया है ।लेकिन हत्या की वजह जब आप जानेंगे,तो आपके पाँव के नीचे की जमीन खिसक जाएगी ।मृतक कैलू यादव की हत्या से तीन दिन पहले कैलू यादव के बेटे रंजीत यादव के ई रिक्सा की बैटरी चोरी हो गयी थी ।रंजीत यादव ने बैटरी चोरी का आरोप सूरज यादव पर लगाया था ।
इस मामले में कैलू यादव ने हत्या से एक दिन पहले सदर थाना में बैटरी चोरी का मामला भी दर्ज कराया था ।इसी मामले को लेकर सूरज यादव ने अपने पिता विजेंदर यादव सहित कुछ अन्य युवकों के साथ मिलकर 23 नबम्बर को दिनदहाड़े पहले तो लाठी और डंडे से कैलू यादव और उनके दो बेटों को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया ।और घटना बीच में ही सूरज यादव ने अपनी कमर में रखी चाकू निकालकर कैलू यादव पर ताबड़तोड़ हमले कर उन्हें जख्मी कर दिया और वहां से वह सभी हमलावर के साथ वहाँ से फरार हो गया ।कैलू यादव की मौत घटना के कुछ समय बाद ही सदर अस्पताल में ईलाज के दौरान हो गयी । आज जिस दो बैटरी की वजह से इस हत्या की पटकथा लिखी गयी थी वह सदर थाना के वार्ड संख्या 15 के एक झाड़ी में मिली ।वार्ड संख्यां 12 के वार्ड पार्षद राजेश कुमार सिंह की मौजूदगी में सदर थाना के एएसआई नकुल पासवान और जवानों ने दोनों हत्यारी बैटरी को बरामद किया ।यह बरामदगी पुलिस की जांच में सहयोगी साबित हो सकती है लेकिन इन दोनों हत्यारिन बैटरी ने कैलू की ईहलीला खत्म कर डाली ।हत्यारिन बैटरी तो मिल गयी लेकिन कैलू यादव अब इस दुनिया में में कभी लौटकर नहीं आयेंगे ।
वार्ड संख्यां 12 के पार्षद राजेश कुमार सिंह ने कहा कि मुहल्ले वासियों ने बैटरी मिलने की सूचना उनको दी और उन्होंने इसकी सूचना सदर एसएचओ आर.के.सिंह को दी ।एसएचओ ने एएसआई नकुल पासवान को भेजा ।वे बैटरी बरामदगी के समय पुलिस के साथ मौजूद रहे ।उन्होंने कहा कि दो मामूली सी बैटरी कैलू यादव की मौत की वजह बन गयी ।

Written by 

Related posts