Search

विराट और ऐतिहासिक रही श्रावणी मैत्री शोभा यात्रा

विराट और ऐतिहासिक रही शोभा यात्रा..
श्रावणी मैत्री शोभा यात्रा में शामिल हुए 5 हजार से ज्यादा युवा…
रथ, चारपहिया, डीजे, बाईक और पारंपरिक ढोल-नगाड़े के साथ निकली शोभा यात्रा
सहरसा टाईम्स : बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के बैनर तले आज ऐतिहासिक शोभा यात्रा निकाली गई ।इस शोभा यात्रा में कई सामाजिक संगठन के अधिकारी और कार्यकर्ता भी मौजूद थे ।श्रावणी शोभा यात्रा सुबह दस बजे जिला मुख्यालय के पॉलिटेक्निक शिव मंदिर से निकली जो शहर के विभिन्य हिस्सों से होते हुए शंकर चौक पर पहुंची ।
पूरा भगवामय माहौल में छोटे और बड़े झंडे के साथ युवा झूमते गाते हुए शोभा यात्रा को बेहद विराट और खास बना रहे थे ।सम्पूर्ण शहर भगवामय हो गया तथा जय श्री राम और हर-हर महादेव के जयकारे से पूरा वातावरण गुंजायमान होता रहा ।यात्रा में आये हुए लोगों ने यह स्पष्ट कर दिया कि हिंदू एकता में कहीं भी कोई कमी नहीं है ।हम सदैव देशभक्ति,भाईचारा,मिल्लत, सौहाद्र और सहिष्णुता का परिचय देते हैं ।इस शोभायात्रा में रथ पर झांकी भी शामिल थी ।
विहिप के जिलामंत्री शारदाकांत झा ने कहा कि यह शोभायात्रा शहर के लिए एक मिशाल है जो आने वाले दिनों में सिद्दत से हिन्दू एकता का परिचय देता रहेगा ।
हम रहें ना रहें भगवा ऐसे ही लहराता रहेगा ।श्री झा ने कहा कि हम पुलिस प्रशासन तथा अनुमंडल पदाधिकारी के तहेदिल से शुक्रगुजार हैं कि उन्होंने सारी व्यवस्था को दुरुस्त रखने में अपना सराहनीय योगदान दिया ।जनता और प्रशासन के मेल से ही किसी क्षेत्र में कोई आयोजन सम्भव और सफल हो पाता है ।यह शोभा यात्रा लछमिनियाँ चौक,तिवारी चौक,हटियागाछी, पूरब बाजार,भीआईपी रोड,बस स्टैंड,गंगजला चौक,थाना चौक, डीबी रोड,कपड़ापट्टी,महावीर चौक होते हुए शंकर चौक स्थित राम जानकी मंदिर पहुँची,जहां मंदिर में सभी ने जलाभिषेक किया ।यात्रा के दौरान सभी सनातनियों ने जमकर ठुमके लगाए ।नाचते-गाते हुए युवकों का सैलाब बेहद मनोरम माहौल बना रहा था ।पॉलिटेक्निक से इस शोभा यात्रा की शुरुआत श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के बिहार और झारखण्ड के मुख्य संगठन प्रभारी सह अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश कुमार सिंह ने भगवा झंडा लहराकर विदा किया ।श्री सिंह इस शोभा यात्रा में अस्वस्थ रहने की वजह से शामिल नहीं हो सके लेकिन उन्होंने कहा कि यह श्रावणी मैत्री शोभा यात्रा हर साल निकलेगी ।हमने इस शोभा यात्रा की शुरुआत गत वर्ष की थी ।गत वर्ष यह यात्रा 1 अगस्त को निकली थी ।हर वर्ष काल और समय को देखते हुए तिथि में बदलाव हो सकते हैं लेकिन यह शोभा यात्रा हर साल निकलेगी ।यह मैत्री यात्रा प्रेम,सद्द्भाव,भाईचारा,मिल्लत,सहकार,सहयोग और देशहित के लिए है ।इसे कोई दूसरे अर्थ में ना लें ।यह हमारी एकता का परिचायक है,ना की शक्ति प्रदर्शन ।इस शोभायात्रा को सफल बनाने मुकेश कुमार सिंह,शारदाकान्त झा,नन्हें सिंह,आकाश सिंह,जीतू सिंह,अभिनव सिंह, राजवीर सिंह,राज सिंह चम्पू,रितेश हन्नी,रौशन झा,प्रणव मिश्रा,सोनू गुप्ता,सुनील यादव,सौरभ वत्स, नवनीत सिंह, रौनक,रतन दुबे, रितेश झा, दिलीप बाबू,आशीष बंटी,अमित आनंद,सतीश यादव,अर्जुन अवस्थी,सुमन सांडिल्य,सत्यम सिंह,बिट्टू सिंह, अंकित,पंकज,खुशी भारद्वाज, प्रिंस सिंह सहित सैंकड़ों कार्यकर्ताओं का अमूल्य योगदान रहा ।

Written by 

Related posts